Chicks purchase tips.
ब्रायलर पोल्ट्री ट्रेनिंग हिंदी !

चूजे लेने से पहले जरूरी सावधानियाँ !

अनेकों पोल्ट्री किसान चूज़ा अपने पोल्ट्री फार्म के लिये चूज़ा खरीदने से पहले सावधान नहीं रहते और गलतियां कर बैठते है और भारी नुक्सान कर लेते है ! इसलिये निम्नलिखित जानकारियों को ध्यान से समझे ! 

 

1- कोशिश करिये सीधे हैचरी से ही चूज़े खरीदें ! अगर संभव नहीं है तो आपको सप्लायर से पहले ही जान लेना चाहिए, किस हैचरी का चूजा आपको मिलने वाला है ! इससे आप अंदाजा लगा सकते है , कि कितनी दूरी से चूजा आने वाला है ! हमेशा ध्यान रखिये जितनी दूर से चूज़ा आएगा उतना ज्यादा चूज़े पर तनाव का असर होगा ! और जितना  नज़दीक से आएगा उतना तनाव काम होगा !

तो कोशिश करिये जितना नज़दीक से चूजा लिया जाये उतना बेहतर है !

 

2-अगर आप चूजा 95 डिग्री फ़रेनहाइट से ज्यादा के तापमान में खरीद रहे है ,तो

हैचरी मालिक या चूजे के सप्प्लायर से चूजे के डब्बों में तरबूज या खरबूजे के टुकड़े जरूर रखवा लें ताकि अगर रास्ता लम्बा हो तो चूजे को ऊर्जा मिलती रहे और  चूजे को पानी की कमी ना हो !

 

कुछ जेल तरह के ऊर्जा देने वाले उत्पाद भी आते है ! वो भी उपयोग किये जा सकते है !

3-चूजे के भाव ब्रीड के हिसाब से अलग भी हो सकते  है ! कुछ सप्लायर किसी ब्रीड के बदले अन्य ब्रीड भी दे सकते है ! इसलिए चूज़े की सम्बंधित कंपनी के लोगों से भी सपर्क रखें ताकि किसी शंका की स्थिति में वो आपको ये बता सकें की ये चूजा उनकी कंपनी की ब्रीड का नहीं है !

 

4-चूज़े का आकर

Chicks
Week Chicks

चूजे के अकार का भी बहुत महत्व होता है !  बेहद कम वजन के चूजे सही ग्रोथ नहीं लेते और आपके मुनाफे को कम कर सकते है !

5-अगर चूजा कम हलचल कर रहा हो तो ये अच्छे चूजे के लक्षण नहीं होते ! अगर आपको ऐसे लक्षण दिख रहे है तो वीडियो जरूर बना लें और ड्राइवर के सामने ही बनायें ताकि शिकायत करने पर आपकी बात का जोर पड़े !

 

6-हमेशा चूजा की खरीद के पैसे चूज़ा बेचने वाले के या चूजा बेचने वाली कंपनी के खाते में ही डालें ! और  रसीद संभाल कर रखें ! रसीद में चूज़े की ब्रीड की जानकारी जरूर दर्ज हो इससे किसी शंका की स्थिति में आप या किसी विवाद के स्थिति में आप सभी अभिलेख ( रिकॉर्ड ) दिखा  सकें !

7-कुछ वैक्सीन चूजों को पहले दिन लगती है ! हैचरी के अधिकारियों या चूज़े के डीलर से ये जान लें की  चूजों को वैक्सीन लगी है या नहीं ! जरूरत हो तभी वैक्सीन लगवायें !

 

8-चूजे लेते वक़्त सभी डब्बों को गिनने से काफी समय खराब होता है !

Chicks Box.
Chicks Box.

इसलिए चूजे कुछ डब्बों के चूजे ड्राइवर के सामने गिन  लें  उदाहरण के तौर पर , आपको 100 डिब्बों में चूज़े मिले है तो 10 के करीब डब्बों के चूजे  ड्राइवर के सामने गिन लें ! इससे सही संख्या का अंदाजा लगा सकें !

 

9-कुछ चूजों का वजन भी कर लेना चाहिए ! और चूजे लगभग सामान आकर के होने चाहियें ! आमतौर पर चूजों का वजन 38 -50  ग्राम तक होता है

 

चूजों के वजन में बहुत कमी हो तो होती है तो , इस बात की जानकारी लिखित में ड्राइवर या सम्बंधित व्यक्ति से ले लें ताकि सही निपटारा किया जा सके ! और सूचना भी चूजे के सप्लायर या हैचरी के मालिक को तुरंत देनी चाहिए !

 

10-बहुत महंगा चूजा खरीदना भी बड़े नुक्सान का कारण  बन सकता है ! चूजा डालने से पहले आने वाले वक़्त में आने वाले त्यौहार या अन्य बातें ध्यान रखें जो डिमांड को प्रभावित कर सकते है ! जैसे सावन ,नवरात्र,ईद ,होली ,भैया दूज या अन्य !

11-कुछ ऐसी घटनायें भी सामने आयी है जिसमे एक ब्रीड के चूजे के साथ अन्य ब्रीड के चूजों के साथ मिला कर बेच दिया जाता है आपको इस बारे सचेत रहना चाहिये प्रतिष्ठित डीलर  या हैचरी से खरीद करें !

अच्छे चूजे की विशेषतायें !

स्वस्थ चूजे  चमकदार ,और गोल साफ़ आँखों वाले होते है  और पूरी तरह  सक्रिय , और सूखी नाभि वाला होना चाहिए ! चोजों की टांगें भी चमकदार होनी चाहियें और छूने पर  मोम जैसा नाजुक महसूस  देने वाली होनी चाहियें ! टेडी मेडी टांगों ,मुड़ी हुई गर्दन और भद्दी चोंच वाले चूजे सही नहीं होते ! वो नुकसान का कारण ही बनते है !

धन्यवाद !

Send or Share This Post To Others By Clicking Below Platforms.
poultryindiatv
We are Providing Egg and broiler prices from lat 10 Years for people related to poultry's Industry.We are also adding blogs related to poultry training including broiler,layer and parent segment.
https://www.poultryindiatv.com

Leave a Reply